लेमन ग्रास के प्रकार, उपयोग, फायदे हिंदी में जाने ( Cymbopogon Citratus ) | Lemon grass in hindi

Lemon grass in hindi – इसका पौधा लगभग दो मीटर तक लम्बा होता है और धान के पौधे के समान होता है । इसका वैज्ञानिक नाम सिम्बोपोगौन सिट्रस हैं । यह पेरेनियल एरोमेटिक प्लांट हैं । इसकी खेती केरल , तमिलनाडु , कर्नाटक , मध्यप्रदेश , असम , पश्चिम बंगाल उत्तर प्रदेश एवं महाराष्ट्र में किया जाता हैं।

भारत के अलावा इसकी खेती ग्वाटेमाला , ब्राजील , चीन , इंडोनेशिया , थाईलैंड हैती में की जाती है । भारत में Cymbopogon Flexuous की खेती की जा रही है । इसमें जो स्पेसिस हैं उसका नाम है Cymbopogon Citratus इसका इंग्लिश नाम ” west lemon grass ” है ।

लेमन ग्रास में एल्केलाइड्स , सिट्राल ( 80-90% ) पाया जाता है। सिट्रोल को जब संश्लेषित करते हैं तो अल्फा आयनन और बीटा आयनन प्राप्त होता है । बीटा आयोनन से विटामिन बी को संश्लेषित करने के बाद विटामिन ए तैयार किया जाता है ।

Read More – पेन का अविष्कार किसने और कब किया |

lemon grass in hindi
lemon grass in hindi

इसके अलावा जो अपशिष्ट पदार्थ बच जाते हैं उससे साबुन तथा अगरबत्ती तैयार की जाती है और कौस्टमैटिक के समान तैयार किया जाता है ।

लेमन ग्रास के प्रकार

  1. निमा ( Nima )

2. कृष्णा ( Krishna )

3. सिम शिखर ( CIM Shikhar )

4. प्रमाम ( Pramam )

5. चिरहरित ( Chirharit )

6. सी के पी -25 ( CKP-25 )

Read More – Mobile का आविष्कार किसने और कब किया | Mobile ka avishkar kisne kiya

Lemon grass benefits (लेमन ग्रास के गुण)

Lemon grass benefits – यह कई बिमारियों को ठीक करने में समर्थ हैं । इसमें 75% सिट्रील नामक पदार्थ पाया जाता है जिसके कारण इसमें से नींबू की खुशबू आती है । इसमें एन्टीबैक्टीरियल , एन्टीइनफल्मेट्री , एन्टीफंगल गुण पाए जाते हैं। इसका उपयोग चाय में अदरक की तरह किया जाता है और संक्रमण से बचाव करता है।

Lemon grass benefits – इसमें 70% जल होता है इसके अलावा वसा ( Fat) और कार्बोहाइड्रेट बहुत ही कम पाया जाता है। इसमें विटामिन मिनरल जैसे – विटामिन – सी, विटामिन – बी 6 , कैल्सियम , आयरन , मैग्नीशियम , जींक, फास्फोरस , सोडियम ये गुण पाए जाते हैं।

Lemon grass uses लेमन ग्रास के उपयोग

Lemon grass uses – लेमन ग्रास का तेल भी दवा के रूप में उपयोग किया जाता है लेकिन इसका तेल ज्यादातर ब्युटी प्रोडक्ट में उपयोग किया जाता है । ड्रींक में फ्लेवर के लिए प्रयोग किया जाता है । यह कोलेस्ट्रोल के स्तर को नियंत्रित रखता है । लेमन ग्रास का प्रयोग पाचन क्रिया को दुरुस्त करता है ।

इसमें मौजूद एन्टीआक्सीडेंट गुण पेट के अल्सर ( जो बीमारी होती है ) को रोकने का काम करती हैं । लेमन ग्रास में मूत्रवर्द्धक गुण यानि कि डाइयूरेटिक गुण ( Property) होती है । इसका सेवन यदि आप बार बार करेंगे तो आपको बार बार पेशाब करने जाना पड़ेगा और इससे किडनी स्वस्थ रहता है । इससे शरीर के टाॅक्सिक एलीमेंट पेशाब के जरिए बाहर निकल जाती है ।

Read More – निषेचन किसे कहते हैं | Nishechan Kise Kahate Hain .

पथरी की दवाइयों में भी लेमन ग्रास का इस्तेमाल किया जाता है । इसका जूस किडनी स्टोन को बाहर निकलने में कारगर हैं । इसमें एन्टीकैंसर सेंज भी पाये जातें हैं। इसका इस्तेमाल रेगुलर किया जाए तो कैंसर को कुछ हद तक कैंसर से बचा जा सकता है।

हमने इस पोस्ट में जाना lemon grass benefits, lemon grass in hindi, lemon grass uses |

Read More – जरूर जाने नीम पेड़ के बारे में | Neem ped ke Fayde |

Leave a Reply

Your email address will not be published.