जरूर जाने पेन का अविष्कार किसने और कब किया | Pen ka avishkar kisne kiya

Pen ka avishkar kisne kiya पुराने जमाने मे पेन नाम की कोई वस्तु नहीं थी | पुराने जमाने में राजा महाराजा या साधारण मनुष्य भी पंछियों के पंखों के द्वारा एक छोटा पतीला में स्याही जैसा पदार्थ होती थी | जिसमे डूबा डुबाकर लिखने का कार्य सफल बनाया जाता था। उस समय मोबाइल क्रांति का अविष्कार नही हुवा था | जिससे लोगो को एक दूसरे को संदेश या पत्र के द्वारा भेजा जाता था।

पेन का अविष्कार किसने और कब किया | Pen ka avishkar kisne kiya

जिससे लोगो को पंख से लिखने में काफी समय और टाइम ज्यादा खराब होता था। Pen ka avishkar kisne kiya इसी समस्या को देखते हुवे जॉन जैकब लाउड नाम के एक महान साइंटिस्ट ने अपने हाथो से इन्होंने पेन बनाने का ठान लिया इन्होंने सन 1888 में लगभग 134 वर्ष पहले पेन का अविष्कार हूवा था । जॉन लाउड का बॉल पेन लेदर पर लिखने के लिए काफी अच्छा था।

Pen ka avishkar kisne kiya

Read More – Mobile का आविष्कार किसने और कब किया | Mobile ka avishkar kisne kiya

लेकिन उससे कागज पर सुचारू रूप से लिखा नही जा सकता था। क्योंकि उसकी निब बहुत कठोर थी। दोष के कारण वह समय प्रचलित नही हो सका। बाद में वर्ष 1938 में हंगरियन मूल के अजेटियन लिडिस्लाओ जोस बिरो ( Ladislao Jose Biro ) पतली स्याही और बॉल बियरिंग का उपयोग कर आधुनिक बॉल पेन बनाने में सफल रहे।

जोश Biro का वह पेन व्यवसायिक रूप से काफी सफल रहा और कुछ ही समय में 100 अरब से भी ज्यादा बिक गए । बॉल पेन का स्याही काफी कीमती लंबी समय तक चलने वाली पेन है यह पेन काफी फाईन चलने वाली पेन है |

इसे बनाने के लिए जोस बीरो ने इस मुकाम को पाने के लिए बहुत परिश्रम किया था, जो की आज विश्व भर में ज्यादा चलने वाली वस्तु है। लिडिस्लाओ जोस बिरो का जन्म सन 1899 में हंगरी के बुडापेष्ट शहर में एक यहूदी परिवार में हुआ था ।

पेन का उपयोग ( Use of Pen )

Pen ka avishkar kisne kiya पेन हमारे जीवन में बहुत महत्व है जो पेन पेन में लिखने से हमारा जीवन सफल बना देती है | पेन बच्चो से बुजुर्गो तक इसका उपयोग करते है यह कई रंगों से बनी होती है जैसे – कलर नीला , पीला, लाल, हरा ,काला आदि।

इसी पेन से पूरा विश्व का कल्याण होता है | इसी से बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर जी ने पूरा सविधान लिख दिया यह छोटा सा पेन बड़ी कमल की चीज है इसमें अपना जीवन सफल बनाने का मौका मिल जाता है।

Read More – निषेचन किसे कहते हैं | Nishechan Kise Kahate Hain .

Fountain Pen ka Avishkar kisne kiya FAQ

पेन की नोक यानी निब किस प्रकार बनी होती है और कैसी बनी होती है?

आज कल पेन की नोक स्टेनलेस या स्टील या टाइटेनियम से बनी होती है इसमें छोटी सी छर्रा बोलते है इसे के द्वारा स्याही बाहर आती है और अपना कर्तव्य पूर्ण करती है।

पेन की स्याही किन चीजों से मिलकर बनी होती है?

देखा जाता है पेन कई कलर और अनेक डिजाइन दार बने होते है , इसे बनाने के लिए आवश्यक सामग्री :_ जैसे साल्वेन्ट,पानी या तेल को एक लिमिट में मिलाया जाता है, कलम कागज पर अच्छे से फाईन चले इसके लिए स्याही में अतिरिक्त रासायनिक कपौंड जैसे —ओलेक, एसिड और अल्काहल अलका नो लमाइड भी मिलाया जाता है |

इस पोस्ट में हमने जाना – pen ka avishkar kisne kiya, fountain pen ka avishkar kisne kiya, ball pen ka avishkar kisne kiya, ink pen ka avishkar kisne kiya tha, ink pen ka avishkar kisne kiya.

Read More – Moon Par Kon Kon Gaya Hai | मून पर कौन कौन गया है?

Leave a Reply

Your email address will not be published.